30 दिसंबर, 2013

नया कुछ करना है

सुस्वागतम
ए नव वर्ष आज 
खिले सुमन

नव बर्ष शुभ और मंगलमय हो |


नव रस में भीगा
नव वर्ष आने को है
नया कुछ करना है
आने वाले के स्वागत में |
आगे कदम बढ़ाना
जीवन से सीखा है
सुख दुःख होते क्षणिक
उनको बिसराना है |
कई अनुभव किये संचित
बीते वर्षों में
उनको ही आधार मान
 कुछ विशिष्ट  करना है |
जो भी हो नवल
 प्रेरक प्रोत्साहक
उसे सहेज कर
 प्रसारित  करना है |
यह अनुभवों की धरोहर
कुछ नया कराएगी
नवरसों का स्वाद
सब में जगाना है |
आने को है नया साल
अभिनव प्रयोग करना है
नव वर्ष का अभिन्दन
सब भूल कर करना है |
आशा

12 टिप्‍पणियां:

  1. नव वर्ष का अभिन्दन
    सब भूल कर करना है |
    ***
    निश्चत ही...!
    अनंत शुभकामनाएं!

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया प्रस्तुति...आप को मेरी ओर से नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं...

    नयी पोस्ट@एक प्यार भरा नग़मा:-तुमसे कोई गिला नहीं है

    जवाब देंहटाएं
  3. नव वर्ष की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामाये
    अवश्‍य देखिये क्‍योंकि यह आपके सहयोग के बिना संभव नहीं था -
    माय बिग गाइड का सफर 2013

    जवाब देंहटाएं
  4. नव वर्ष पर कुछ नया, सार्थक एवँ सकारात्मक करने के लिये प्रेरित करती बहुत ही सुंदर रचना ! नए साल की आपको सपरिवार अनन्त हार्दिक शुभकामनायें ! नया साल सुख, स्वास्थ्य एवँ समृद्धि की शानदार सौगात लेकर आये यही मंगलकामना है ! नया साल मुबारक हो !

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...आप को मेरी ओर से नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं...

    जवाब देंहटाएं
  6. आ० बहुत बढ़िया प्रस्तुति , नव वर्ष २०१४ की हार्दिक शुभकामनाएं , धन्यवाद
    नया प्रकाशन -; जय हो विजय हो , नव वर्ष मंगलमय हो

    जवाब देंहटाएं
  7. आप को नव वर्ष 2014 की सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएँ!

    कल 02/01/2014 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    धन्यवाद!

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. सूचना हेतु धन्यवाद यशवंत जी |नव वर्ष शुभ और मंगलमय हों |
      आशा

      हटाएं
  8. बहुत सुन्दर पंक्तियाँ.
    आपको नव वर्ष की मंगल कामनाएं...!

    जवाब देंहटाएं
  9. बहुत सुन्दर प्रस्तुति। । नव वर्ष की हार्दिक बधाई।

    जवाब देंहटाएं

Your reply here: