31 मई, 2018

बेटी



1-ख्यालों में बेटी
हर समय छाई
है प्रिय मुझे

2- बेटी का दुःख
सहन नहीं होता
दिल से प्यारी
3-बेटी या बेटा
दोनों हैं  प्रिय मुझे 
हुई निहाल
 
४-बेटी या बेटा 
बड़े हो हुए गैर 
रह गई मै
 
५बेटी या बेटा
दौनों एक सामान
दौनों प्रिय हों

६-बेटी की कमीं 
हर समय खले 
मन न लगे 

७-बेटी बचालो 
पुन्य लाभ  कमालो 
लाओ बहार




आशा

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Your reply here: