18 अक्तूबर, 2011

प्रकृति प्रेमी


ऊंची नीची पहाडियां
पगडंडी सकरी सी
मखमली फैली हरियाली
लगती उसे अपनी सी |
बचपन से ही था अकेला
एकांत प्रिय पर मृदुभाषी
भीड़ में भी था एकाकी
कल्पना उसकी साथी |
था गहरा लगाव उसे
प्रकृति की कृतियों से
मन मयूर नाच उठता था
उनके सामीप्य से |
हरी भरी वादियों में
कलकल करता झरना
ऊंचाई से नीचे गिरता
मन चंचल कर देता
जलचर थलचर भी कम न थे
नभचर का क्या कहना
लगता अद्भुद उन्हें देखना
उनमें ही खोए रहना |
था ऐसा प्रभावित उनसे
क्यूँ की वे थे भिन्न मानव से
घंटों गुजार देता वहाँ
तन्मय प्रकृति में रहता |
हर बार कुछ नया लिखता
देता विस्तार कल्पना को
रचनाएँ ऐसी होतीं
परिलक्षित करतीं प्रकृति को |
भावों की बहती निर्झरणी
यादों में बसती जाती
खाली एकांत क्षणों में
आँखों के समक्ष होती |
वह खुशी होती इतनी अमूल्य
जिसे व्यक्त करता
मन चाहे स्वरुप में
खो जाता फिर से प्रकृति में
आशा


19 टिप्‍पणियां:

  1. प्रकृति का सुन्दर नज़ारा जिसे हरेक का मन चाहे ... अच्छी प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  2. इस प्रविष्टी की चर्चा कल बुधवार के चर्चा मंच पर भी की जा रही है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    जवाब देंहटाएं
  3. आदरणीय आशा माँ
    नमस्कार !
    ......प्रकृति का सुन्दर नज़ारा

    जवाब देंहटाएं
  4. आपकी हर रचना की तरह यह रचना भी बेमिसाल है !
    "माफ़ी"--बहुत दिनों से आपकी पोस्ट न पढ पाने के लिए ... !

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत बढ़िया प्रस्तुति ||

    बधाई स्वीकारें ||

    जवाब देंहटाएं
  6. बेहतरीन रचना।
    शब्‍दों का बेहतर तरीके से इस्‍तेमाल।

    जवाब देंहटाएं
  7. बहुत खूबसूरत रचना ! प्रकृति के सम्मोहन से विस्मित विमुग्ध करती अनुपम रचना ! बधाई !

    जवाब देंहटाएं
  8. बेहतरीन रचना...मेरे ब्लॉग पर भी पधारें .

    जवाब देंहटाएं
  9. प्रकृति प्रेम को समर्पित सुंदर कविता

    जवाब देंहटाएं
  10. प्रकृति प्रेम की सुन्दर छटा...बहुत सुंदर

    जवाब देंहटाएं
  11. सुन्दर चित्रण... सुन्दर गीत...
    सादर बधाई...

    जवाब देंहटाएं
  12. पूरी प्रकृति को ही समेट लिया है। बधाई।

    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं,

    जवाब देंहटाएं

Your reply here: