30 मई, 2015

जल बरसा

 आंसू आँखों के के लिए चित्र परिणाम
जल बरसा 
आँखों से छमछम 
रिसाव तेज |

रुक न सका 
लाख की मनुहार 
बहता रहा |

वर्षा जल सा 
कपोल की राह पर 
बहता गया |

अश्रु जल के 
निशान  बन गए 
सूखे कपोल |
आशा




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Your reply here: